Saturday, April 13, 2024
Homefacts of biharचम्पारण का नाम आखिर चम्पारण क्यों पड़ा ?

चम्पारण का नाम आखिर चम्पारण क्यों पड़ा ?

Published on

 

चंपारण पूर्व में हर क्षेत्र के नामकरण के पीछे कोई न कोई कहानी अवश्य छिपी हुई है आज हम जानेंगे बिहार के सबसे उत्तर में स्थित चम्पारण का नामकरण के पीछे की एक छोटी सी लेकिन महत्वपूर्ण बात

नाम चंपा-अरान्या या चंपकटनी से निकला है। यहाँ चंपा का मतलब चम्पा वृक्ष से है और और अरान्या का मतलब जंगल से है। चंपा+अरान्या का अर्थ है चंपा पेड़ों का जंगल।

CHAMPA TREE

दरअसल कभी चम्पारण का ये क्षेत्र खुसबूदार चंपा के वृक्षों से भरा हुआ था । ऐसा माना जाता है कि इन्ही विशाल घने चंपा के जंगलो और इन्ही सदाबहार वृक्षों की वजह की वजह से इस क्षेत्र का नाम चम्पारण पड़ा नाम रखा गया था, ।

अगर ये जानकारी पसंद आयी होगी तो इसे जरूर शेयर करें

Facebook Comments

Latest articles

ओढ़नी डैम: बाँका जिले का प्रसिद्ध पिकनिक स्थल

बिहार के बाँका जिले में स्थित ओढ़नी डैम, प्राकृतिक सौंदर्य और जल क्रीड़ा के...

बिहार :समृद्ध विरासत, ज्ञान और धार्मिक उद्गम की भूमि

बिहार की विरासत , नवाचार और लचीलेपन के धागों से बुनी गई एक टेपेस्ट्री...

बिहार दिवस 2024: बिहार की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का जश्न

बिहार दिवस कब मनाया जाता है हर साल 22 मार्च को, भारत का...

More like this

यूनानी राजदूत मेगस्थनीज़ पाटलिपुत्र देखकर दंग क्यों रह गया?

मेगस्थनीज़ (Megasthenes) एक प्रमुख यूनानी राजदूत और यात्री थे, जिन्होंने भारत में मौर्य साम्राज्य...

पौराणिक काल में पाटलिपुत्र की अहमियत

पाटलिपुत्र, जिसे आजकल पटना के नाम से जाना जाता है, भारत के राज्य बिहार...

बिहार में किस प्रकार की जलवायु है?

बिहार समुद्र से अपनी दूरी के कारण एक महाद्वीपीय मानसून जलवायु का...