nancy-nit-patna

पूर्व में बिहार के इंजीनियरिंग कॉलेज में प्लेसमेंट बिकुल नगण्य रहती थी और अगर होती भी थी तो कुछ दोयम दर्जे की कपनियां आती थी और बेहद काम पैकेज पर छात्रों को नौकरी दे कर जाती थी । लेकिन अब परिस्थिति बदली है अब देश और दुनिया की टॉप कम्पनीज भी प्लेसमेंट देने के लिए बिहार का रुख करने लगी है

ताज़ा उदाहरण है पटना की कंप्यूटर साइंस विभाग की छात्रा नैंसी कुमारी। दरअसल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, पटना की कंप्यूटर साइंस विभाग की छात्रा नैंसी कुमारी को सालाना 40.6 लाख रुपए का पैकेज ऑफर किया गया है।

सॉफ्टवेयर क्षेत्र की प्रमुख कंपनी अडोबे ने किया चयन 

नैंसी का चयन सॉफ्टवेयर क्षेत्र की प्रमुख कंपनी अडोबे ने किया है। फाइनल प्लेसमेंट में छात्रा को यह ऑफर मिला है। नैंसी सत्र 2015-19 की छात्रा है।

अब तक किसी भी छात्रा को मिलने वाला यह सबसे बड़ा पैकेज है।
संस्थान के ट्रेनिंग तथा प्लेसमेंट सेल के इंचार्ज प्रो. सम्राट मुखर्जी ने बताया कि संस्थान में अब तक किसी भी छात्रा को मिलने वाला यह सबसे बड़ा पैकेज है। इससे पहले एडोबी कंपनी ने ही 39 लाख के पैकेज पर संस्थान की एक छात्रा को जॉब ऑफर किया था। नैंसी सीतामढ़ी की रहनेवाली है। उन्हें नोएडा में जॉब मिलेगी।

विशेष प्रोग्राम शी कोड्स के तहत किया गया चयन
प्रो. मुखर्जी ने बताया कि नैंसी का चयन कंपनी के विशेष प्रोग्राम शी कोड्स के तहत किया गया है। कंपनी द्वारा छह छात्रों का ऑनलाइन टेस्ट लिया गया। इसमें सफल होने पर कोलकाता में तीन राउंड का टेक्निकल सेशन आयोजित किया गया। अंतिम रूप से नैंसी को इस राउंड में सफलता मिली है।

सैमसंग ने भी किया है प्लेसमेंट ड्राइव

सैमसंग के प्लेसमेंट ड्राइव में संस्थान के 90 छात्रों का कोडिंग टेस्ट हुआ है। जिसमें 22 छात्रों को सफलता मिली है। इन छात्रों को टेक्निकल राउंड के लिए चुना गया। जिसमें अंतिम रूप से 17 छात्रों का चयन हुआ है। इन छात्रों को साढ़े दस लाख रुपये सालाना का पैकेज ऑफर किया गया है।

                      पटना की कुछ पुरानी अनदेखी तसवीरें

एक्सेंजर एडवांस्ड ने भी स्टूडेंट्स को दिया मौका
एक्सेंजर एडवांस्ड इंजीनियरिंग ने नौ छात्रों को मौका दिया है। इन्हें 9 लाख रुपए का सालाना पैकेज ऑफर किया गया है। प्रो मुखर्जी ने बताया इस सेशन में कई कंपनियों ने प्लेसमेंट ड्राइव में हिस्सा लिया। इनमें एल्सटॉम ग्रुप, ओरेकल, ओयो रूम्स, कैपजैमीनी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, एनालिटिक्स क्यूटेंट, केपीआईटी, फैक्टसेट, सिग्मोइड, एलएंडटी कॉरपोरेट, वर्चुसा कम्यूनिकेशन, इंफोसिस, एलएंडटी कंस्ट्रक्शन, प्रिज्म जॉनसन लिमिटेड, ट्राइकोन इन्फोटेक, इंडियन नेवी, रिलायंस जियो (फाइनेंशियल सर्विसेज) सहित कई कंपनियां शामिल थी।

 

Share if you found this article helpful

Facebook Comments