DR K.C SINHA

बिहार अपने बौद्धिक संपदा के लिए जाना जाता है और के सी। सिन्हा उसी संपदा के एक रत्न हैं ।अगर आप ने मैट्रिकुलेशन के बाद गणित को अपना विषय अपने उच्च शिक्षा के लिए चुना हो तो आपको अवश्य अपने शिक्षक द्वारा के सी सिन्हा द्वारा लिखे गणित के विभिन्न पुस्तकों का अध्यन करने के लिए कहा गया होगा । और हो भी क्यों न बेहद सरल है में लिखे गये उनकी पुस्तकों ने छात्रों के बिच अपनी एक अमित छाप छोड़ी है ।अपने इस आर्टिकल में आज हम ररोबरू हो रहे हैं महान गणितज्ञ डॉ के सी सिन्हा से

परिचय


के सी सिन्हा भारत में सर्वाधिक चर्चित और गुनी गणितज्ञ में से एक हैं ।वह बिहार में सबसे प्रसिद्ध और प्रतिष्ठित नामों में से एक है । गणित के महागुरु नाम से विख्यात के।सी। सिन्हा अपनी किताबों और शिक्षण के जरिए सिर्फ बिहार ही नहीं, बल्कि बाकी देश की युवा पीढ़ी के भविष्य निर्माण में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

जन्म


उनका जन्म बिहार के आरा जिले में हुआ था

प्राथमिक शिक्षा

उन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा आरा से ही प्राप्त की

उच्च शिक्षा


प्रो सिन्हा अपनी B Sc और M Sc में गोल्ड मेडलिस्ट है

पीएचडी


उन्होंने 1990 में पीएचडी की उपाधि प्राप्त की । वह बिहार में सबसे प्रसिद्ध और प्रतिष्ठित नामों में से एक है


वर्त्तमान


वे फिलहाल पटना यूनिवर्सिटी के गणित विभाग में प्रोफेसर हैं |

उपलब्धि


प्रो के सी सिन्हा ने 35 साल लंबे शानदार करियर में 60+ सफल पाठ्य पुस्तकों की रचना की है और उनकी योजना इस संख्या को 100 तक पहुंचाने यानी शतक बनाने की है।। बिहार में सबसे प्रसिद्ध और प्रतिष्ठित नामों में से एक, प्रो। सिन्हा अपने स्कूल और प्रतियोगिता की पुस्तकों के माध्यम से देश भर में जाने और पहचाने जाते है ।


अन्य उपलब्धियां

एडुवाइजर पब्लिशिंग ग्रुप की उनकी नवीनतम पुस्तकें इंजीनियरिंग परीक्षाओं के लिए पूरे भारत के कई स्कूलों और कोचिंग संस्थानों में पाठ्यक्रम का हिस्सा बन गई हैं।

सम्मान

आउटलुक पत्रिका द्वारा उन्हें बिहार के प्रतीक सम्मान से नवाजा गया था |के सी सिन्हा ने इन उल्लेखनीय कार्यों की बदलौत कई जगह सम्मान पाया है और न सिर्फ अपना, बल्कि बिहार का भी सम्मान बढ़ाया है।

Facebook Comments