Wednesday, July 17, 2024
HomeNewsपटना मेट्रो: सातवें आसमान में उड़ान का इंतजार

पटना मेट्रो: सातवें आसमान में उड़ान का इंतजार

Published on

पटना मेट्रो का निर्माण: एक सुरक्षित और तेज़ यातायात की ओर

राजधानी पटना में मेट्रो की शुरुआती तारीख का ऐलान हो गया है और इसका आनंद लेने के लिए लोगों को केवल तीन साल और इंतजार करना होगा। पटना मेट्रो, जिसे जनवरी 2027 तक शुरू होने की संभावना है, नगर के यातायात को बेहतर बनाए रखने का एक कदम होगा। इस मेट्रो का कोरिडोर-दो, न्यू आइएसबीटी से बैरिया के न्यू आइएसबीटी तक जाने वाला है और इसमें कई एलिवेटेड और भूमिगत स्टेशन होंगे।

पटना मेट्रो के रूट्स: सफलता की ओर एक कदम और

पटना मेट्रो का कोरिडोर-दो, न्यू आइएसबीटी से मलाही पकड़ी तक, इसमें कई महत्वपूर्ण स्टेशनों का समाहित है। यह सुनिश्चित करेगा कि पटना के लोग सुरक्षित और तेज़ यातायात का आनंद ले सकें। भूमिगत सुरंग के माध्यम से जोड़े जाने वाले स्टेशनों में से कुछ एलिवेटेड होंगे, जो यात्री को समर्थन और सुरक्षा प्रदान करेंगे।

भूमिगत सुरंग का महत्वपूर्ण दौर: बन रही है एक अद्वितीय स्थान

मोइनुलहक स्टेडियम से पटना विश्वविद्यालय तक खोदी जा रही डेढ़ किलोमीटर लंबी मेट्रो सुरंग का निर्माण एक महत्वपूर्ण दौर में है। इससे निकलने वाली मेट्रो ट्रेन जनवरी 2027 तक दौड़ने की संभावना है और यह नगर के यातायात को सुगम बनाए रखेगा।

स्वच्छता के प्रति प्रतिबद्धता: एक बेहतर भविष्य की दिशा में कदम

पटना मेट्रो के निर्माण के दौरान स्वच्छता का पूरा ख्याल रखा जा रहा है और इसमें जनता का सहयोग मांगा जा रहा है। स्थानीय जनता भी इस योजना के सफलता के लिए अपना सहयोग दे रही है ताकि पटना में।मेट्रो के साथ एक नए और सुरक्षित यात्रा का आनंद लिया जा सके।

पटना मेट्रो से सजग और सुरक्षित यात्रा की आशा

पटना मेट्रो का आने वाला समय नगर के लोगों के लिए सजगता और सुरक्षित यात्रा का एक नया युग लाएगा। नगर की यातायात जीवन को सुगम और सहज बनाए रखने के लिए पटना मेट्रो एक महत्वपूर्ण कदम है, जो सातवें आसमान में उड़ान की तरह होगा।

इस रूट पर सबसे पहले दौड़ेगी पटना मेट्रो 

न्यू आइएसबीटी – जीरो माइल – भूतनाथ – खेमनीचक – मलाही पकड़ी (सभी स्टेशन एलिवेटेड) – राजेंद्रनगर – मोइनुलहक स्टेडियम – विश्वविद्यालय – पीएमसीएच – गांधी मैदान – आकाशवाणी – पटना स्टेशन (सभी स्टेशन भूमिगत)।

Facebook Comments

Latest articles

खगड़िया जिला स्थापना दिवस : मक्का और दूध का अद्भुत उत्पादन करता है यह ज़िला

बिहार के उत्तर-पूर्वी क्षेत्र में स्थित खगड़िया जिला ने अपने 44वें वर्ष में प्रवेश...

राजगीर का शायक्लोपिएन दीवार

राजगीर में स्थित शायक्लोपिएन दीवार ( चक्रवात की दीवार) मूल रूप से चार मीटर...

बिहार के तीसरे चरण के लोकसभा चुनाव में पांच सीटों के समीकरण

बिहार के तीसरे चरण के लोकसभा चुनाव में पांच सीटों के समीकरण इस प्रकार...

सिलाई मशीन योजना ऑनलाइन आवेदन 2024: महिला सशक्तिकरण के लिए मुफ्त सिलाई मशीन योजना

क्या है सिलाई मशीन योजना ? भारत सरकार ने महिलाओं को सशक्त बनाने के उद्देश्य...

More like this

पटना विश्वविद्यालय का नाम दक्षिण अमेरिका की सबसे ऊँची चोटी पर पहुँचाया मिताली प्रसाद ने

हौसला इंसान से उनके सपने पूरे कराने का माद्दा रखता है।कुछ ऐसा ही कारनामा...

बिहार की अंजलि ने किया कमाल, बनी विदेश में तैनात होने वाली पहली महिला विंग कमांडर

लड़कियां हमेशा देश का मान बढाती है, एक बार फिर बिहार ...

पटना जंक्शन को मिला देश का सबसे बड़ा वेटिंग रूम, एस्कलेटर, फ्री वाई-फाई के साथ कई सुविधाएँ मिली

पटना जंक्शन ने स्मार्ट जंक्शन बनने की राह में एक और कदम...