धोनी ने बिहार में क्रिकेट के विकास के लिए एक बेहतरीन कदम उठाने का निश्चय किया है

0
297
ms-dhoni_
ms-dhoni_

बिहार में विश्वस्तरीय क्रिकेट पर लगा ग्रहण अब उठने का संकेत दे रहा है | भारतीय क्रिकेट टीम को बुलंदियों की नयी उंच्चाईओं तक पहुंचाने वाले महेंद्र सिंह धौनी पटना में विश्व स्तरीय क्रिकेट एकेडमी शुरू करने वाले हैं। इसके लिए मैदान का चयन हो चुका है। करार के पहले की प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली गई है। धौनी के साउथ अफ्रीका दौरे से 25 फरवरी के लौटते ही करार कर लिया जाएगा। करार की प्रक्रिया रांची में पूरी की जाएगी, किंतु उद्घाटन के दौरान धौनी अपनी पत्नी संग पटना में मौजूद रहेंगे।

राजधानी पटना के पटेल नगर स्थित ऊर्जा स्टेडियम में प्रस्तावित धौनी की यह तीसरी ग्लोबल क्रिकेट एकेडमी होगी। पहली एकेडमी दुबई में 11 नवंबर को खुली थी और दूसरी सिंगापुर में पिछले महीने खुली थी ।

धौनी का काम देख रहे पूर्व क्रिकेटर मिहिर दिवाकर ने बताया कि धौनी का प्लान पूरी दुनिया में 18 क्रिकेट एकेडमी खोलने का है। इनमें से चार भारत में होगी। पटना के अलावा लखनऊ, नागपुर और रांची में भी अकादमी खोलने की तैयारी चल रही है। लखनऊ एकेडमी के लिए पहले ही करार हो चुका है जो इसी साल के अंत तक शुरू कर दिया जाएगा। सभी एकेडमी विश्वस्तरीय होंगी। प्रारम्भ में पटना में 150 बच्चों को ट्रेन किया जाएगा चयन ट्रायल के आधार पर होगा।

दिवाकर के मुताबिक एकेडमी का उद्घाटन आईपीएल मैच के पहले या बाद में होगा, क्योंकि मैच के दौरान धौनी को समय निकालना मुश्किल होगा। विदित हो कि आईपीएल के मैच सात मार्च से शुरू होकर 27 अप्रैल तक चलेंगे। हालांकि बिहार सरकार की कोशिश है कि एकेडमी का उद्घाटन आईपीएल मैच के पहले ही करा लिया जाए। इसके लिए धौनी के विदेश दौरे से लौटते ही ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत पहल कर सकते हैं।

बिहार में क्रिकेट एकेडमी की जरूरत बताते हुए दिवाकर कहते हैं बिहार के बच्चों को बहुत सालों से उत्कृष्ट मौका नहीं मिला है।यहाँ के खिलाडी को परोसी राज्य झारखण्ड में जाके प्रक्षिक्षण करना पड़ता है | हम उन्हें मौका प्रदान कर अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेटर बनाने का प्रयास करेंगे। युवा खिलाडिय़ों को क्रिकेट की बारीकियों से अवगत कराया जाएगा और नई तकनीक सिखाई जाएगी।
ऊर्जा स्टेडियम की अगर बात करें तो यह
छह एकड़ में फैला है |इसी स्टेडियम में अंडर-19 टीम के सदस्य अनुकूल राय भी खेलते रहे है। स्टेडियम की क्षमता अभी डेढ़ हजार दर्शकों की है, लेकिन जल्द ही बढ़ाकर पांच हजार क्षमता का बनाना है। ऊर्जा विभाग ने अक्टूबर 2016 में इसे 11 करोड़ की लागत से बनाया था।

दिवाकर के निरीक्षण और धौनी की सहमति के बाद इसकी क्षमता बढ़ाने की पहल हुई है।
धोनी देश में चार बड़े एकेडमी के अलावा दो जूनियर एकेडमी भी खोलने की तैयारी है। दिवाकर ने बताया कि एक बरेली में खुल चुकी है और दूसरी नोएडा में खोलने की तैयारी चल रही है। विदेशों में दुबई और सिंगापुर के अलावा साउथ अफ्रीका के डरबन, ऑस्ट्रेलिया के सिडनी, हांगकांग, कुआलालंपुर, डर्बन एवं केपटाउन में भी खोलने की सहमति बन चुकी है। धोनी अपने हर क्रिकेट एकेडमी में खुद जाकर युवाओं के साथ अपना अनुभव शेयर करते रहते हैं|
उम्मीद है की धोनी की यह अकादेमी बिहार के उन युवा क्रिकेटर के लिए उपयोगी होगी जो क्रिकेट में अपना भविस्य तलाशना चाहते है

Facebook Comments